कपूर परिवार की होली: आर के स्टूडियो में जमकर खेली जाती थी होली, राज कपूर की मौत के बाद बंद हो गया सेलिब्रेशन

कपूर परिवार की होली: आर के स्टूडियो में जमकर खेली जाती थी होली, राज कपूर की मौत के बाद बंद हो गया सेलिब्रेशन

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

20 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

फिल्मी दुनिया की होली की जब भी बात होती है तो सबसे पहला नाम राज कपूर का ही आता है। वैसे तो राज कपूर के निधन के बाद उनके आरके स्टूडियो का वो होली का त्योहार बंद हो चुका है। लगभग 32 साल से इस स्टूडियो में होली की वो मौज मस्ती रंगों का वो खेल हुआ ही नहीं है। फिर भी आरके स्टूडियो की होली का वह इम्प्रेशन और इम्पैक्ट कायम है। राज कपूर ने 60 के दशक में अपने इस भव्य स्टूडियो में होली और गणेशोत्सव के दो बड़े त्योहार शुरू किए।

raj 1616654217

ऐसी खेली जाती थी

आरके स्टूडियो में पानी से भरे हौद (बड़े नांद) में गुलाल और तरह-तरह के रंग घोले जाते थे। इसके बाद सभी साथ डुबकी लगाते थे। हर आने वाले का पहला स्वागत रंग भरा टैंक में डुबकी लगाकर ही किया जाता था। जो ज्यादा ना-नुकुर करता था, उसे जबरन टैंक में फेंक दिया जाता था। इसके बाद शुरू होता है डांस गाने का कार्यक्रम, जिसमें सभी अपने-बेगाने भेदभाव भूलकर साथ में नाचते थे। आरके स्टूडियो की होली में पूरे कपूर खानदान के अलावा फिल्म उद्योग के छोटे बड़े लोग शामिल थे।

होली में शामिल होने वाले राज कपूर की एक्ट्रेसेस थीं

राज कपूर गॉसिप और ग्लैमर वर्ल्ड की दुनिया के राजा थे। उनकी हर एक फिल्म की हूरें भी होली का आनंद उठाने यहां पहुंचती थीं। आरके स्टूडियो की ऐतिहासिक होली में नरगिस, वैजयंती ग्रंथ, हेमामालिनी, धर्मेन्द्र, मनोज कुमार, राजेंद्र कुमार, जितेंद्र, दारा सिंह, राकेश रोशन, प्राण, प्रेमनाथ, मिथुन, राजेश खन्ना, अमिताभ, अनिल कपूर, शत्रुघ्न सिन्हा, राखी, रेखा श्रीदेवी, जीनत अमान जैसे कलाकार होली का मजा उठा चुके हैं।

d714eea2acb46c15ce895718a65566a6 1616654245

राज कपूर के निधन के बाद बंद हुई होली

नरगिस-वैजयंती माला से लेकर अमिताभ, अनिल कपूर और श्रीदेवी ने भी आरके स्टूडियो की होली का पूरा आनंद उठाया। हालांकि 1988 में राज कपूर के निधन के बाद आरके स्टूडियो की होली बंद हो गई। राज कपूर के भाई या बेटों ने इसे आगे चलाने में कुछ खास उत्साह नहीं दिखाया। बस इस होली की शब्दों में बने रहे। यश चोपड़ा, सुभाष घई, अमिताभ बच्चन, सुधाकर बोकाड़े ऐसी कुछ फिल्म वालों ने कुछ दो चार साल अपने बंगलों पर होली का भव्य आयोजन किया लेकिन उसमें राज कपूर वाला रंग नहीं रहा। वैसे भी सिर्फ गुलाल लगाने और फोटो खिंचाने से वो फील नहीं आ सकती, जो आरके स्टूडियो की होली में आती थी।

big 1616654261

1948 में शुरू हुआ था आरके स्टूडियो: शो-मैन राज कपूर ने 70 साल पहले 1948 में आरके स्टूडियो की नींव रखी थी। इस स्टूडियो के बैनर तले बनी पहली फिल्म ‘आग’ फ्लॉप रही थी। हालांकि दूसरी फ़िल्म ‘बरसात’ सुपरहिट हुई थी। स्टूडियो का लोगो बरसात में राज कपूर और नरगिस के पोज़ से इंस्पायर है, जो बरसात के पोस्टर्स पर दिखा रहा था। आरके स्टूडियो ने कई कल्ट और क्लासिक फिल्मों का निर्माण किया है। इनमें ‘आग’, ‘बरसात’, ‘आवारा’, ‘श्री 420’, ‘संगम’, ‘मेरा नाम जोकर’, ‘बॉबी’ और ‘राम तेरी गंगा मैली’ जैसी फिल्में शामिल हैं। 2017 में आग लगने के बाद आर के स्टूडियो में काफी नुकसान हुआ था, जिसके बाद इसे बेचकर गिर गया था।

खबरें और भी हैं …



Source link

Scroll to Top