डिस्चार्ज हुए ट्रेजेडी किंग: 98 साल के दिलीप कुमार को मिली अस्पताल से छुट्टी, 5 दिन पहले सांस में तकलीफ होने के बाद हुए थे भर्ती

डिस्चार्ज हुए ट्रेजेडी किंग: 98 साल के दिलीप कुमार को मिली अस्पताल से छुट्टी, 5 दिन पहले सांस में तकलीफ होने के बाद हुए थे भर्ती

एक खोज पहले

  • लिंक लिंक

दिली कुमार की ओर से फ़सली की स्थिति खराब होने की स्थिति में सोशल मीडिया पर ऐसा ही होता है।

ट्रज किंग के नाम से दिलीप कुमार को मि. 98 साल के दिलीप साहब की ओर से इस बात की जानकारी सोशल मीडिया पर है। लिखा है, “प्यार और दया ओं के साथ दिलीप साहब डॉ. (नित) गोखले, (जलील) पारकर, डॉ. अरुण शाह और हिंदुजा अस्पताल, खार की पूरी के साथ ही रूमी हैं। को

5 दिन में दिलीप साहब
दिलीप भर्ती में भर्ती 5 पोस्ट किए गए संदेशों में शामिल थे। मौसम में पानी भर गया। इस स्थिति को बैलेट लिट्ल इल्हेली कहा जाता है। भार से डीलिंग में जल पर कर ने कहा, ‘फेफड़ों में पानी भरने की जगह की पहचान’।

भर्ती में भर्ती

वह भी दिलीप साहब के अधिकारी भर्ती में थे। कहा 🙏 सभी चेकअप के बाद किया गया था।

पद्मविभूषण, दादा जी ने अभिमंत्रित

दिलीप कुमार का नाम उत्पाद खान है। ‘ज्वार भाटा’ (1944), ‘अंदाज’ (1949), ‘आण’ (1952), ‘देवदास’ (1955), ‘आज़ादी’ (1955), ‘मुगल-ए-आजम’ (1960), ‘गंगा’ जमुना’ (1961), ‘क्रांति’ (1981), ‘कर्मा’ (1986) और ‘सौदागर’ (1991) में 50 से अधिक समय में काम किया।

खराब खराब होने के कारण खराब होने की स्थिति में भी ऐसा ही होता है। कैमरे के सबसे बड़े दादा साहेब फाल्से फंक्शन से भी जोड़ा गया है। 2015 में भारत सरकार ने पद्म सम्मान पद्मविभूषण भी जीता था।

खबरें और भी…

.

Source link

Scroll to Top