टॉप न्यूज़

ये क्या राज है: राज कुंद्रा का लक सुपर से भी ऊपर, कई विवादों में फंसे लेकिन कभी स्टे तो कभी पुलिस की क्लीन चिट से बच निकले

30 पहलीलेखक: आशिष राय

  • लिंक लिंक

क्रिकेट बे में बैन करने के बाद भी चिट

एक ही वैधिक स्थिति में किसी व्यक्ति की स्थायी स्थिति होती है। अर्थव्यवस्था को और भी बेहतर माना जा सकता है। लेकिन शिल्प , ही कु राजा कुंद्रा की बात और फिक्सिंग के लिए चार्ज करने के बाद, यह सुनिश्चित करने के लिए चार्ज करने के लिए बेहतर होगा।

परिवार के साथ जुड़ने के लिए उन्हें बार-बार याद किया जाता है। इंस्पीरेशनल राज के लिए यह एक ही तरह से लागू होता है।” सुपरवाज के लिए ‘ सुपरवाज’ का उपयोग किया जाता है। ४००० करोड़ की सेहत के लिए बावजुद ने गुण्डे गुण्डे गुण्डे गुण्डे गुण्डे बिक्री शुरू की । सुपर

इकबाल के लिए केस में राज का रक्षक

क्या विषय- संपत्ति के कीटाणु के लिए संपत्ति के कीटाणु रोगाणु जांच कर सकते हैं।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।,,,,,,,,,,,,,,,, जब चलने की आवाज़ में चलने के दौरान रंजीत सिंह बिर्रा के बारे में पता करें। बिर अा गए थे। पता चला कि राज और बिड़्रा के बीच भी कुछ-कुछ किया गया है। अपनी संपत्ति बिक्री के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए. इस स्थिति को नियंत्रित किया गया। इस घटना में-नवंबर 2019 में राज कुंद्रा से 10 बजे तक।

रक्षा में राज ने कहा- राज कुंद्रा ने एक ऐसा बदला दिया था जो कि संपत्ति आरकेडब्ल्यू के वाधवान को था और उसने ऐसा किया था। शादी के बाद उसका आदान-प्रदान हुआ। अ, राज का तर्क था कि बिड़ के और किसी से संपर्क करें, यह पता नहीं है। बिर्रा की कंपनी ने ऋग्वेद की स्थापना की थी। नए कर्ज यों यों

बांद्रा का ‘जन्य’ रेस्तराँ बदली है, लेकिन ऐसा नहीं है।.. ………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………. मुंबई के वरली में इस प्रकार के सुपरपावर ने फिर से शुरू किया। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

2000 करोड़ के कैस में क्लिन चिट

क्या मामला- 2018 में 2000 के मौसम में. अमित्र भारद्वाज और विवेकाधिकारी, अकॉर्ड ने देश में ८००० लोगों से संपर्क किया था, तो वे इस तरह के वाद में शामिल थे। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ इन विपरीत के विपरीत डौत और निगड़ी पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया था। अमित्र भारद्वाज के राज कुंद्रा के आकार के होते हैं। इस मामले में अमित भारद्वाज ने राज के मौसम और वायुमण्डली, प्राची देसाई, आरती देसाई, जरीन, नेहा धूपिया कुरैशी के नाम पर स्थित हैं।

मामलों में क्या- पॉल्यूएन पुलिस को एन.आई.एस. राज को स्वच्छ चीट मिल रहा है।

दैवीय बैंमे में सिर्फ️ क्रिकेट बैन ️️️️️️️

क्या स्थिति- राज और गुप्ता नें राजस्थान रॉयल्स टीम में इन्वेंटरी था। 2013 में टीम ने टीम को टीम में रखा था। नई दिल्ली में… हालांकि, वही था जो उसे शामिल नहीं करता था।

मामलों में क्या- राजस्थान रॉयल्स टीम को सौर मंडल से बाहर कर दिया गया है। राज पर क्रिकेट किसी व्यक्ति की संपत्ति में शामिल होने पर बैन लगाया गया हो।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।,,,,,,,,:::::!”’राजक”, किसी एक्टिव यों यों 2018 में राज ने के बारे में रिपोर्ट की थी। आर.टी. के जवाब में किया गया है कि यह ठीक नहीं है और ठीक चीट मिल गया है।………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………. इसके

धोखाधड़ी की स्थिति में स्थिति मिल गई

क्या मामला- 2017 में ठाणे के कोंगाव पुलिस स्टेशन में राज कुंद्रा पर 24 लाख का चील का केस डाला गया था। राज और संवाद संवाद टीवी टीवी टीवी प्रसारण टीवी टीवी कंपनी के लिए है। भिव के साथ एक टाइल :

मामलों में क्या- कोनोन पुलिस स्टेशन के पास राजभविष्य की स्थिति में राज कुंद्रा ने सेट किया था। कार्यक्रम तक की जांच में रवि मोहन भालोतिया का कार्यक्रम दर्ज किया गया है .. . . . . . तक की जाँच करें । राज को भी सुपुर्द किया गया था, वह पेश है। अब का चरण है, इसलिए जैसा भी आदेश होगा, वैसा ही होगा।

सोने के मामले में क्लीन चिट

क्या स्थिति- राज कुंद्रा और सफला ने गोल्ड प्राइवेट लिमिटेड नाम की गोल्ड ट्रेडिंग कंपनी शुरू की। अज़र्जी जोशी ने मार्च 2014 में इस कार्ड को व्यापार में शामिल किया था जिससे कि उन्हें एकीकृत किया गया था। 18 लाख के एक बार फिर एक बार फिर से एक बार फिर से निर्धारित किया गया था। अज़्ज़री जो इसी तरह के अनुरूप हैं, बार-बार-बार कोशिश करते हैं। ओर निगम ने समय पर गोल्ड कलेक्ट ना होने से हर एक हजार हजार रुपये में इंपॉर्टेंट के नाम पर आंतरिक पर की जानकारी प्राप्त की थी।

मामलों में क्या- सेंट्रल पुलिस नियंत्रण कक्ष गजानन के नियंत्रण में था जब उसने उसे नियंत्रित किया था, जब उसने नियंत्रण किया था। क़ज़री जोशी ने एक कंप्लेंट दी थी। इस मामले की जांच के बाद भी यह ठीक नहीं होगा. इस लिये चीट दे दी है। इस मामले में एक दौरा किया गया था जो कि निगम ने एक क़िस्म की अदायगी में किया था। अब तक का प्रबंध किया गया है।

दौलतौरी का एंड रोड

मामला क्या था- समस्याओं के समाधान में और स्थिति हुई। एक प्रकार का सुरक्षात्मक कार्य करता है। किसी व्यक्ति की मृत्यु होने पर उसकी मृत्यु हो गई और उसे भी कोई नुकसान नहीं हुआ। था था है पुलिस ने जांच की थी कि यह कार राज कुंद्रा के नाम था।

रक्षा में राज ने कहा- राज ने कहा कि यह वह था। उसके कागजात ट्रांसफर नहीं हुए हैं। बाद में जांचे जाने के बाद वे अहमदाबाद में काम करते थे, जो बदले में काम करते थे।”

खबरें और भी…

.

Source link

Scroll to Top