China Launches Super High-Speed Maglev Train; 'Floating Train' Can Attain Speed Up To 600 KPH

China Launches Super High-Speed Maglev Train; ‘Floating Train’ Can Attain Speed Up To 600 KPH

मंगलवार को चीन ने एक मैग्लेव ट्रेन का अनावरण किया जो सुपर हाई स्पीड से चलती है। चीनी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 600 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली मैग्लेव ट्रेन पटरी से थोड़ा ऊपर तैरती नजर आ रही है. यह ट्रेन इलेक्ट्रोमैग्नेटिक फोर्स की मदद से ट्रैक के ऊपर तैरती नजर आ रही है। इसी वजह से इस ट्रेन को ‘फ्लोटिंग ट्रेन’ भी कहा जा रहा है। इस मैग्लेव ट्रेन को चीन ने स्वदेशी तकनीक से विकसित किया है और इसका निर्माण तटीय शहर किंगदाओ में किया गया है।

शंघाई से बीजिंग तक ढाई घंटे

चीन पिछले दो दशकों से सीमित स्तर पर परिवहन के क्षेत्र में इस तकनीक का इस्तेमाल कर रहा है। शंघाई में मैग्लेव ट्रेन के लिए एक छोटी लाइन है, जो शहर से मुख्य हवाई अड्डे तक जाती है। हालाँकि, चीन के पास अभी तक अंतर-शहर या अंतर-राज्यीय मैग्लेव लाइनें नहीं हैं। चीन के कुछ शहरों जैसे शंघाई और चेंगदू में इस लाइन के लिए शोध चल रहा है।

चूंकि इस ट्रेन की स्पीड 600 किलोमीटर प्रति घंटा है इसलिए इसे शंघाई से बीजिंग तक का सफर तय करने में ढाई घंटे का समय लगेगा। शंघाई से बीजिंग की दूरी 1000 किलोमीटर से अधिक है। तुलनात्मक रूप से, वही यात्रा हवाई जहाज से 3 घंटे में और हाई-स्पीड रेल द्वारा 5.5 घंटे में की जाएगी।

2003 से चीन में हाई-स्पीड ट्रेन

2003 में चीन में देश की सबसे तेज चलने वाली ट्रेन मैग्लेव चलने लगी। इसकी अधिकतम गति 431 किलोमीटर प्रति घंटा है और शंघाई पुडोंग हवाई अड्डे को शंघाई के पूर्वी छोर पर लॉन्ग्याग रोड से जोड़ता है।

जापान और जर्मनी जैसे देश भी मैग्लेव ट्रेन चलाने की योजना बना रहे हैं।

.

Source link

Scroll to Top